पाँच वर्ष में हो सकता है 250 बिलियन डॉलर का कारोबार

कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल ने दिया टेक्सटाइल उद्योग को 5-सूत्री मिशन

नई दिल्ली/ राजेश शर्मा
कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने देश के कपड़ा उद्योग को पांच सूत्री मिशन देते हुए कहा कि इसे पूरा करने पर इस उद्योग का कारोबार आगामी 5-6 वर्षों में बढ़कर 250 बिलियन डॉलर का हो सकता है और निर्यात 100 बिलियन डॉलर तक पहुुंच सकता है। पिछले दिनों दसवीं एशियन टेक्सटाइल कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि देश के कपड़ा उद्यमी यदि इनोवेशन, ससटेनबिलिटी, डिजीटलाईजेशन, नए उत्पादों और फ्री ट्रेड एग्रीमेंट्स; एफटीएफ पर फोकस करें, तो देश के कपड़ा उद्योग का कुल कारोबार बढ़कर 250 बिलियन डॉलर का हो सकता है और निर्यात 100 बिलियन डॉलर तक पंहुच सकता है। उन्होंने कहा कि यह एक अच्छी बात है कि उद्योग नए उत्पादों और विस्तारीकरण पर गंभीरता से विचार कर रहा है। उद्योग सप्लाई के लिए डिजिटलाईजेशन का उपयोग कर सकता है। श्री गोयल ने उद्यिमियों से कहा कि वे इनोवेशन और डिजिटलाईजेशन के बल पर कड़ी प्रतिस्पर्धा में टिक सकते हैं। ससटेनबिलिटी से लागत कम कर सकते हैं, दोबारा प्रयोग करने वाले संसाधनों का प्रयोग करके पर्यावरण पर दबाव कम सकते हंै। उन्होने उद्योग से कहा कि वे उच्च किस्म की जिप, एम्बेलिशमेंट आदि के उत्पाादन भी अपना ध्यान केंद्रित करें, क्योंंकि फिलहाल हम इनके लिए आयात पर निर्भर हैं। उच्च किस्म के उत्पादों से देश के उद्योग की अच्छी इमेज बनेगी। इन्होंने कहा कि कपड़ा उद्योग को फ्री ट्रेड एग्रीमेंट का अधिकतम लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न देशों के साथ मुक्त व्यापार समझौते यानि एफटीए करने के बाद अब उद्यमियों का कार्य है कि वे इनका अधिकतम लाभ उठाएं। उल्लेखनीय है कि गत कुछ वर्षों के दौरान सरकार ने विभिन्न देशों के साथ मुक्त व्यापार समझौते किए हैं लेकिन इनमें से सबसे महत्वपूर्ण एफटीए यूएई के साथ है, क्योंकि वह एक व्यापारिक केंद्र है और उसे अनेक प्रमुख देशों का प्रवेश द्वार कहा जाता है। जानकारों का कहना है कि यूएई के साथ संधि के बाद भारत से टेक्सटाइल और गारमेंट्स निर्यात बढऩे की व्यापक संभावनाएं हैं। श्री गोयल ने कहा कि अमेरिका द्वने उद्योग से आग्रह किया कि उसे विश्व कपड़ा बाजार में जो परिवर्तन आ रहे हैं, उस चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार रहना चाहिए।


Textile World

Advertisement

Tranding News

गारमेण्ट में कामकाज सुधरा
Date: 2022-07-11 10:54:30 | Category: Textile
कॉटन आयात शुल्क मुक्त 
Date: 2022-04-22 10:45:18 | Category: Textile
कपड़े में तेजी बरकरार
Date: 2022-04-07 12:36:42 | Category: Textile
बाजार में हलचल आरंभ 
Date: 2022-02-23 17:14:55 | Category: Textile
कपड़ा बाजार खुला 
Date: 2021-06-25 11:16:44 | Category: Textile

© TEXTILE WORLD. All Rights Reserved. Design by Tricky Lab
Distributed by Tricky Lab