फैशन में नये ट्रेंड से तेजी की आशा

लेटेस्ट ट्रेंड और उम्दा क्वालिटी देने पर जोर
मुंबई/ लोकल मार्केट में गारमेण्ट में अच्छे कारोबार की शुरूआत हो गई है। कोविड महामारी के कारण गारमेण्ट व्यवसाय पर गंभीर असर पड़ा था, लेकिन अब इसका असर कम हो गया है। लोगों ने फिर से स्टोर्स में आकर गारमेण्ट खरीदना शुरू कर दिया है। बड़ी नामचीन कपड़ा एवं गारमेण्ट उत्पादक कंपनियों के पास आगामी करीब छह महिने का ऑर्डर बताया जा रहा है। अमेरिका के बाजारों में भी सुधार होना शुरू हो गया है, इससे ऐसा लगता है कि अब गारमेण्ट में कारोबार कोविड से पूर्व स्तर में आने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। फैशन में लेटेस्ट टे्रंड, उम्दा क्वालिटी और वैल्यू के बल पर ही गारमेण्ट में ग्राहकों को अपने उत्पादों की ओर खींचने की ब्रांडेड एवं गैर ब्रांडेड कंपनियों का प्रयास रहा है।  रेमंड की अंतरर्राष्ट्रीय बाजारों में नई गारमेण्ट इकाई लगाने की योजना है। रेमंड समूह के प्रबंध निदेशक गौतम सिंघानिया के अनुसार इथोपिया के गारमेण्ट प्लांट में कामकाज अच्छा चल रहा है। कपंनी की आय बढ़ाने में शर्टिंग व्यवसाय की हिस्सेदारी अच्छी रही है। इनके पास आगामी छह महिने का भरपूर ऑर्डर है। ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में फ्लिपकार्ट को फैशन में नये ब्रैंड से तेजी की आशा है। नये कस्टमर्स में से 45 प्रतिशत कस्टमर्स फैशन कैटेगरी से पाने वाली फ्लिपकार्ट फैशन के वीपी श्री संदीप करवा का कहना है कि फैशन का डेमोक्रटाइज होना ही फैशन कटेगरी की बंपर ग्रोंथ की वजह है। ओरिजनल टेस्ट उसकी मौलिकता के साथ कस्टमर तक पहुंच रहा है।  वैश्विक ऑर्डर घटने के कारण गारमेण्ट निर्यातकों को चिंता हो रही है। अनेक वैश्विक ब्रांडों के नये ऑर्डर में 15 प्रतिशत की गिरावट आई हंै। पेंमेंट भी रुक जाने की आशंका है। जारा, मैंगों, एचएंडएम जैसे ब्रांडों के नये ऑर्डर 25 प्रतिशत तक घटे है। इसका प्रमुख कारण रूस और यूक्रेन के बीच पिछले एक महिने से अधिक समय से चल रहा युद्ध है। इस तनाव का असर अमेरिका के व्यवसाय पर पड़ा है, फिर भी यहां की मांग धीरे-धीरे सुधर रही है। भारत से निटवेर निर्यात का 55 प्रतिशत से अधिक हिस्सा तिरूपुर का है। चालू वित्त वर्ष में 33 हजार करोड़ रू का निर्यात होने से यहां के निर्यातकों को आशा है कि 2022-23 में तिरूपुर का निर्यात लक्ष्य 40 हजार करोड़ रू होगा।  आगामी 11,12 और 13 अप्रैल को मुंबई में सीएमएआई का मुंबई में फैब प्रदर्शन का आयोजन किया गया है। 
इसमें टेक्सटाइल के सभी चैनलों को एक छत के नीचे इक्टठा करने का महत्वपूर्ण काम किया गया है। गारमेण्ट मैन्यूफैक्चरर्स का एक ही प्लेटफॉर्म पर बहुत सारे व्यापारियों के साथ संपर्क होगा, जबकि आमतौर पर गारमेण्ट मैन्यूफैक्चरर्स को रेडीमेड गारमेण्ट तैयार करने के लिए भिन्न-भिन्न सोर्स पर निर्भर रहना पड़ता है। अब जब त्यौहारी की जबरदस्त सीजन के साथ शादियों का मौसम शुरू हो रहा है और देशभर के बाजारों में खुले तौर पर कारोबार करने का अवसर मिला है, तो ऐसे में इस आयोजनों का सीधा असर नये उत्पादों को बाजार में उतारने के लिए होगा।


Textile World

Advertisement

Tranding News

गारमेण्ट में कामकाज सुधरा
Date: 2022-07-11 10:54:30 | Category: Textile
कॉटन आयात शुल्क मुक्त 
Date: 2022-04-22 10:45:18 | Category: Textile
कपड़े में तेजी बरकरार
Date: 2022-04-07 12:36:42 | Category: Textile
बाजार में हलचल आरंभ 
Date: 2022-02-23 17:14:55 | Category: Textile
कपड़ा बाजार खुला 
Date: 2021-06-25 11:16:44 | Category: Textile

© TEXTILE WORLD. All Rights Reserved. Design by Tricky Lab
Distributed by Tricky Lab