NEWS

Textile Textile Textile Textile Textile Articles Textile Textile Articles Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile Textile
गारमेंट उद्योग के लिए आशा की किरण : चीन और यूके में खुदरा बिक्री में सुधार

गारमेंट उद्योग के लिए आशा की किरण : चीन और यूके में खुदरा बिक्री में सुधार

By: Textile World Date: 2020-11-07

नई दिल्ली/राजेश शर्मा

हालांकि भारत मे कोविड-19 की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है, लेकिन पश्चिमी देशों में नए मामलों में सुधार भी हो रहा है, इसके बावजूद सितम्बर में चीन और यूके में गारमेंट की खुदरा बिक्री में बढ़ोतरी से विश्व के गारमेंट उद्योग को एक आशा की किरण नजर आ रही है। प्राप्त आंकड़ों के अनुसार सितम्बर के दौरान यूके में सितम्बर के दौरान गारमेंट की खुदरा बिक्री में अगस्त की तुलना में 1.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। कोविड-19 से पूर्व के महीने फरवरी की तुलना में यह बढ़ोतरी 5.5 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार सितम्बर में दौरान टेक्सटाइल और अपेरल की ऑनलाईन बिक्री में 27.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।

चीन में वृद्धि 8.30 प्रतिशत

सूत्रों के अनुसार चीन में कुल खुदरा बिक्री में बढ़ोतरी के साथ ही अपेरल की बिक्री में भी बढ़ोतरी हुई है।

सितम्बर के दौरान चीन में अपेरल और एसेसरीज में 8.30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जबकि कुल खुदरा बिक्री में 3.30 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। हालांकि चीन में अब गारमेंट की खुदरा बिक्री में सुधार होने लगा है, लेकिन कुल मिलाकर जनवरी-सितम्बर के दौरान चीन में रेडीमेड गारमेंट की बिक्री में गत वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 12.40 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है।

इसी बीच, वियतनाम से सितम्बर के दौरान गारमेंट निर्यात में भी सुधार के समाचार मिल रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार वहां से अप्रैल से लेकर अगस्त तक निर्यात में कमी आई थी, लेकिन अगस्त में सुधार हुआ है।

जनवरी से सितम्बर के बीच वियतनाम की अमेरिकी बाजार में हिस्सेदारी में वृद्धि हुई है, जबकि वहां पर चीन का निर्यात कम हुआ है। हालांकि वियतनाम से चीन, साऊथ कोरिया, जापान आदि को निर्यात कम हुआ है, लेकिन यूरोपीय समुदाय को अधिक हुआ है।

अधिक संभावनाएँ

सूत्र बताते हैं कि आगामी कुछ वर्षों में वियतनाम से यूरोपीय समुदाय को गारमेंट निर्यात में भारी वृद्धि की संभावनाएं हैं, क्योंकि दोनों देशों के बीच एक अगस्त को मुक्त व्यापार संधि (फ्री टे्रड एग्रीमेंट) पर हस्ताक्षर हुए हैं। एग्रीमेंट के अनुसार वियतनाम से आयात पर लगने वाला टैरिफ  धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगा इससे वहां से निर्यात की संभावनाएं बढ़ जाएंगी।

चीन में निवेश

व्यापारियों का मानना है कि वियतनाम कच्चे माल की सप्लाई के लिए चीन पर निर्भर है। इससे चीन कें टेक्सटाइल गारमेंट इंडस्ट्रीज में नया निवेश बढऩे के अनुमान हैं। उल्लेखनीय है कि चीन विश्व का सबसे बड़ा गारमेंट निर्माता और निर्यातक देश है।

Latest News

© Copyright 2020 Textile World